सूखी खांसी का पारंपरिक उपचार – Traditional treatment of dry cough

यह सन्देश निर्मल महतो का नवाडी, बोकारो, झारखण्ड से है. अपने इस सन्देश में निर्मलजी हमें सूखी खांसी का पारंपरिक उपचार बता रहे है. इनका कहना है कालीमिर्च और मिश्री को खाने से सूखी खांसी में लाभ मिलता है. कालीमिर्च और मिश्री को बराबर मात्रा में पीस लें और इसमें इतना घी मिलाए जिससे इसकी छोटी-छोटी गोलियाँ बन जाये. इन गोलियों को चूसने से हर प्रकार के खांसी में लाभ मिलता है. 10 ग्राम कालीमिर्च को पीसकर शहद के साथ सुबह शाम चाटने या 10 कालीमिर्च के दानो को पीसकर एक चम्मच गुनगुने घी में मिलाकर चाटने से सूखी खांसी में आराम मिलता है. कालीमिर्च के 10 दानो को पीसकर उसमे ¼ चम्मच सौंठ मिलाकर उसे 1 चम्मच शहद के साथ सुबह-शाम चाटने से कफयुक्त खांसी में लाभ होता है. 1 चम्मच पीसी हुई कालीमिर्च 60 ग्राम गुड में मिलाकर इसकी गोलियाँ बना लें. इन गोलियों को सुबह-शाम चूसें. मिश्री और धनिया समभाग लेकर उसे चावल के धोवन में मिलाकर पीने से कफयुक्त खांसी में लाभ मिलता है.

This is a message of Nirmal Mahto, Nawadi, Jharkhand. In this message Nirmalji is telling us traditional remedy to get of dry cough. He says eating black pepper after adding sugar candy is beneficial in dry cough. Grind black pepper & sugar candy in equal & make pills after adding adequate amount of ghee. This pills is useful in all types of cough problems. Licking 10 gms black pepper powder with honey or taking 10 gms black pepper powder with lukewarm ghee are also useful. Grind 10 nos black pepper add  ¼ spoon dry ginger powder taking this combination after adding 1 spoon honey can be benefited in cough containing mucus. Taking sugar candy & coriander powder in equal ratio with rice washed water is also helping to get rid of cough.

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *