पारंपरिक शक्तिवर्धक नुस्खा – Traditional tips for vitality

यह सन्देश वैद्य अनंतराम श्रीमाली का सागर, मध्यप्रदेश से है. अपने इस सन्देश में अनंतरामजी हमें पारंपरिक शुक्रवर्धक पौष्टिक नुस्खा बता रहे है जिनका प्रयोग स्त्री और पुरुष दोनों ही कर सकते है. इसके लिए 5 लीटर दूध को 1 लीटर बचने तक औटाएं और जब दूध 1 लीटर बचे तो उसमे 200 ग्राम अश्वगंध चूर्ण, 200 ग्राम सतावर चूर्ण, 200 ग्राम कच्चे सूखे हुए गूलर फल का चूर्ण अच्छे से मिलाकर 20-20 ग्राम के पेढे बनाकर किसी काँच की बोतल में सुरक्षित रखे. इसे 1 पेढा सुबह निराहार प्रतिदिन 6 माह तक 200 मी.ली गाय के दूध अथवा 5 ग्राम घी के साथ लगातार लेने से शुक्राणुओं की वृद्धि होती है. स्त्री और पुरुष दोनों को शरीर पुष्ट होता है.

This is a message of vaid Anantram Shrimali from Sagar, Madhya Pradesh. In this message he is suggesting traditional nutritional tips for men & women. It is also useful for increasing sperm count. Boil 5 liter milk until it remains 1 liter. Hereafter, add 200 gms Ashwagandha (Withania somnifera) also known as winter cherry, 200 gms Satawar (Asparagus racemosus) also known as wild asparagus & 200 gms dried raw Cluster fig fruit powder & mix well. Make 20 gms pills from this combination. Taking this pills in 1 pill daily morning empty stomach with 200 ml cow milk or 5 gms ghee continuously for 6 months is beneficial for increasing sperm count & vitality.

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *