Tag Archives: सेमल / Bombax ceiba

सेमल के काँटों की उपयोगिता / Traditional usage of silk cotton thorns

यह संदेश डॉक्टर दीपक आचार्य जी द्वारा अभुमका प्राइवेट लिमिटेड अहमदाबाद का है…. इसमें इन्होने आँखों के नीचे जो काले धब्बे या डार्क सर्किल हो जाते हैं उन्हें ठीक करने का आदिवासी पारंपरिक उपचार बताया है… इन्हें ठीक करने के लिए सेमल वृक्ष  के तने पर पाए काँटों को कुचल लिया जाये, सेमल का वृक्ष जंगलों और अर्ध वन क्षेत्रों में अक्सर दिखाई देता है जिसके तने पर नुकीले कांटे होते हैं, इन काँटों को इकठ्ठा करके इन्हें कुचल कर इसका चूर्ण तैयार किया जाये और करीब आधा चम्मच चूर्ण को 5 मिलीलीटर मतलब लगभग एक चम्मच दूध में मिला लिया जाये और इस मिश्रण को आँखों के नीचे काले धब्बों वाले स्थान पर लगाये और करीब आधे घंटे तक लगा रहने दें और बाद में इसे साफ़ पानी से धो लें…. सुबह और रात में इस नुस्खे को  एक महीने तक लगातार दोहराएँ  तो काफी लाभ होगा..यह स्वदेशी वनवासियों का ज्ञान है…एक बार अवश्य आजमाए…दीपकजी का संपर्क है 09824050784

This is a message of Shri. Deepak Aacharya from Abhumka Herbals, Ahmedabad…In this message he is telling traditional tribal usage of silk cotton tree… He said as per tribal traditional knowledge thorns of silk cotton tree can be used as a remedy to remove dark circles under eyes…To do this take some thorns of cotton seed tree and grind well.. then mix this powder in 1 spoon of milk…apply this paste under eye and after half hour wash it with clean water…continue this twice a day for month.. Contact of Deepak  Aacharya is 09824050784

Share This:

श्वेत प्रदर की पारंपरिक चिकित्सा

यह संदेश निर्मल कुमार अवस्थी का है जो चांपा छत्तीसगढ़ में पारंपरिक चिकित्सक रमेश कुमार पटेल का साक्षात्कार कर रहे है…रमेश कुमार का कहना है की श्वेत प्रदर होने पर वह अशोक की छाल, सेमल के छाल, अपामार्ग, अश्वगंधा की जड़, सतावर की जड़ का काढ़ा बना कर एक सप्ताह की खुराक देते है… यह खुराक सुबह-शाम को खाना खाने से पहले 10 मी.ली. दी जाती है…. निर्मल कुमार अवस्थी का संपर्क है:09685441912

Share This: